कृषि मंत्री बी.सी. पाटिल ने किसानों तक कीटनाशक पहुँचाने की बातचीत अधिकारियों से की

कृषि मंत्री बी.सी. पाटिल ने किसानों तक कीटनाशक पहुँचाने की बातचीत अधिकारियों से की

173

वास्तविक बीज और उर्वरक किसानों तक पहुंचाने की ज़िम्मेदारी कृषि मंत्री ने ली। कृषि मंत्री बी.सी. पाटिल ने जिले में सक्रिय उर्वरकों और बीज रॉकेट का ध्यान देने की ज़िम्मेदारी ली है |

साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे अपराधियों को सतर्क रखें ताकि किसानों को वास्तविक बीज और कीटनाशक मिल सकें।

श्री पाटिल ने अधिकारियों को सूचित किया कि, “यदि आप पिछले साल के बीज और कीटनाशक के लेनदेन को देखते हैं, तो जिले में बेचे जाने वाले बीज और उर्वरकों का 45% उप-मानक था।

JK Tyre AD

आपको यह नहीं भूलना चाहिए कि सतर्कता अधिकारियों ने पिछले साल 17 करोड़ मूल्य के उप-मानक या नकली कृषि-आदानों को जब्त कर लिया था।

मैं इस साल प्रतिष्ठा नहीं चाहता। जिला प्रशासन ने मानसून की शुरुआत से पहले सभी तैयारियां अच्छी तरह से कर लेनी चाहिए और इस साल के दौरान कृषि-आदानों के खतरे की जांच करने के लिए एक तंत्र रखा है ।”

कृषि मंत्री ने अधिकारियो से लेकर यूरिया की कृत्रिम कमी पैदा करने वाले व्यापारियों पर भी नजर रखने के लिए कहा है, पिछले साल १५८ ट्रेड लाइसेंस रद्द किए गए थे ।

उन्होंने अपने विभाग के कार्यों की प्रगति और तैयारियों की भी चर्चा की।

कुछ अधिकारियों ने मंत्री को बाढ़ प्रभावित किसानों को मुआवज़े की भी चर्चा की और बतया कि, मुख्य रूप से ४,४२,६८६ हेक्टेयर पर फसलों, मुख्य रूप से लाल चना, हरे चने, काले चने और सोयाबीन को नष्ट कर दिया गया और एक राशि ९७ .०७ करोड़ मुआवज़े के रूप में १,३९,१५८ किसानों के बीच वितरित किए गए थे।

agri news

Leave a Reply