१ अप्रैल से एमएसपी पर गेहूं खरीदने के लिए यूपी सरकार है तैयार

१ अप्रैल से एमएसपी पर गेहूं खरीदने के लिए यूपी सरकार है तैयार

1270

यूपी के किसानों के लिए एक नई अच्छी खबर है। उत्तर प्रदेश सरकार ने एमएसपी पर गेहूं बेचने के लिए किसानों का पंजीकरण शुरू किया है।

KhetiGaadi always provides right tractor information

किसान उनका उत्तर प्रदेश के खाद्य और रसद विभाग की वेबसाइट पर पंजीकरण कर सकते हैं। गेहूं की खरीद १ अप्रैल से न्यूनतम समर्थन मूल्य रुपये के एमएसपी पर शुरू होगी १९७५ प्रति क्विंटल रहेगी । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशानुसार यूपी में ६००० खरेदी केंद्र स्थापित किए जाएंगे, साथ ही उन्होंने भंडारण गोदामों और सभी खरेदी केंद्रों की भू -टैगिंग के निर्देश भी दिए हैं।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, २६ फरवरी को, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गेहूं खरीद २०२१- २०२२ से संबंधित दिशानिर्देशों की समीक्षा की और विभागीय अधिकारियों के साथ क्रय नीति का प्रस्ताव किया।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि “इस बार ऑनलाइन पर्ची की सुविधा गेहूं किसानों को प्रदान की जानी चाहिए, और सीएम योगी ने विभागीय अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि किसानों की उपज का भुगतान समय पर किया जाना चाहिए, और यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि किसानों को अपनी उपज बेचने में असुविधा का सामना न करना पड़े ।”

रबी विपणन वर्ष २०२१-२०२२ में पूरे राज्य में १ अप्रैल से पंजीकृत किसानों से खरीद की गई। किसान अपना पंजीकरण पंजीकरण विभाग की वेबसाइट- पर करवा सकते हैं। पंजीकरण के दौरान, ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) किसान द्वारा दिए गए मोबाइल नंबर पर भेजा जाएगा, जिसके बाद पंजीकरण लॉक हो जाएगा।

किसान साइबर कैफे या सार्वजनिक सुविधा केंद्रों के माध्यम से स्वयं वेबसाइट पर पंजीकरण कर सकते हैं।

अतिरिक्त आयुक्त संतोष कुमार ने अपने बयान में कहा कि “यदि किसी कारणवश किसान स्वयं केंद्र पर जाकर गेहूं नहीं बेच पाते हैं, तो वे पंजीकरण के दौरान अपने परिवार के किसी व्यक्ति को नामांकित व्यक्ति के विवरण और आधार संख्या दर्ज करके नामांकित कर सकते हैं ।” खरीफ सीजन के दौरान धान खरीद के विपरीत, किसान खरीद केंद्र पर उपस्थित होने के लिए अपने परिवार के किसी व्यक्ति को नामांकित कर सकते हैं।

agri news

To know more about tractor price contact to our executive

Leave a Reply