भारत आलू उत्पादन और खपत की कीमत में आयी कमी

भारत आलू उत्पादन और खपत की कीमत में आयी कमी

638

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, भारत में आलू के उत्पादन और खपत के दोनों क्षेत्रों में आलू की कीमत ५० प्रतिशत घटकर ५-६ रुपये प्रति किलोग्राम हो गई हैं।

आलू की कीमत कुछ राज्यों में साल भर की तुलना में ५० प्रतिशत कम है, इनमें शामिल राज्य है उत्तर प्रदेश, पंजाब, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, बिहार और गुजरात हैं।

इस साल २० मार्च तक आलू की कीमतें उत्तर प्रदेश और गुजरात में पिछले तीन साल की अपेक्षा ६ रुपये प्रति किलोग्राम से नीचे चल रही थीं। वही उत्तर प्रदेश राज्य कुछ जिलों में थोक आलू की कीमतें ८-९ रुपये प्रति किलो के स्तर पर थीं। जबकि अन्य राज्यों में, कीमत १० रुपये प्रति किलोग्राम से ऊपर थीं और थोक मंडियों में २३ रुपये प्रति किलोग्राम तक बोली लगा रही थीं।

“इसी तरह, खपत वाले क्षेत्रों में, २० मार्च को आलू के थोक मूल्य प्रतिशत कम थी जो कि दिल्ली के १६ में से १२ खपत केंद्रों की तुलना में एक साल पहले की तुलना में ५० प्रतिशत कम था।”

“कंज्यूमर अफेयर्स सेक्रेटरी लीना नंदन ने बात करते हुए कहा, ‘हम कंज्यूमर की तरफ से कीमतों को ट्रैक करते हैं। इस बार जो अनुमान लगाया गया है, उसके मुताबिक आलू की अच्छी फसल है। मंडी में अच्छी आवक है और रिटेल कीमत उपभोक्ताओं के लिए बहुत अच्छी हैं। “

कृषि मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, भारत में प्रति वर्ष २२ -२४ टन की औसत उपज के साथ २१ लाख हेक्टेयर के औसत क्षेत्र से लगभग ५० मिलियन टन आलू का उत्पादन होता है।

agri news

Leave a Reply