पीएम किसान लाभार्थियों को प्रति वर्ष ३६,००० रुपये प्राप्त करने एक अच्छा अवसर है

पीएम किसान लाभार्थियों को प्रति वर्ष ३६,००० रुपये प्राप्त करने एक अच्छा अवसर है

325

सरकार ने किसानों को पीएम किसान योजना की ८वीं किस्त से एक अच्छा लाभ उठाने का अवसर प्रदान करने का मौका दे रही है। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किये गए एलान में लाभार्थियों को प्रति वर्ष ३६,००० रूपए की मूल्य राशि प्रदान की जाएगी। यह ख़ास किसानों की मदद करने के लिए सर्कार ने कदम उठाये है।

सरकार ने अब तक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की सात किस्त जारी की हैं। सरकार ने पिछले साल अप्रैल २०२० में, पीएम किसान किस्त जारी की थी लेकिन कोविद -१९ के कारण, केंद्र समय पर धन का वितरण नहीं कर पाए। लेकिन आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, किसानों के खातों में २००० रूपए की राशि जल्द ही प्रदान की जाएगी।

किन लाभार्थियों को ३६००० रूपए का प्रति वर्ष होगा लाभ ?

JK Tyre AD

केंद्र सरकार ने आदेश में जारी किया है की, जिनकी आयु ६० वर्ष पूरी हो चुकी है उनको ३००० रुपये पेंशन मिलेगी, यानी सालाना ३६००० रूपए प्रदान किये जायेंगे। इसके लिए आपको प्रधानमंत्री किसान योजना योजना – एक पेंशन योजना के तहत अपना पंजीकरण कराना होगा।

पीएम किसान योजना का लाभ जो किसान पहले से उठा रहे है उन्हें कोई अलग पंजीकरण करने की आवश्यकता नहीं है। उन्हें कोई कागज जमा नहीं करना होगा क्योंकि किसान का पूरा दस्तावेज भारत सरकार के पास है।

“पीएम-किसान योजना से प्राप्त मुनाफे में से सीधे योगदान का विकल्प चुनने का विकल्प है। इस तरह, किसान को सीधे अपनी जेब से पैसा खर्च नहीं करना पड़ेगा। उसका प्रीमियम रुपये ६००० से काटा जाएगा। वह हर साल पीएम किसान योजना के तहत प्राप्त करता है।”

किसानों के लिए दोहरा लाभ

इस तरह किसानों को दोनों योजनाओं का लाभ मिलेगा। उन्हें पीएम किसान योजना के तहत ६००० रुपये प्रति वर्ष और प्रधानमंत्री किसान योजना योजना के माध्यम से प्रति वर्ष ३६००० रुपए। इसका मतलब है, एक किसान को प्रति वर्ष ४२००० रुपये मिलते हैं, जो कृषि गतिविधियों को करने के लिए पर्याप्त है।

कौन होगा इस योजना का लाभार्थी ?

पीएम किसान योजना के तहत, १८ से ४० वर्ष के बीच का कोई भी किसान लाभ पाने के लिए पंजीकरण करा सकता है। लेकिन किसानों के पास २ हेक्टेयर तक की खेती योग्य जमीन होनी चाहिए। उन्हें किसान की आयु के आधार पर न्यूनतम २० वर्ष और अधिकतम ४० वर्ष के लिए योजना के तहत ५५ से २०० रुपये का मासिक योगदान देना होगा।

यदि आप १८ वर्ष की आयु में योजना में शामिल होते हैं, तो मासिक योगदान ५५ रु हर महीने देना होगा। वहीं, अगर आप ३० साल की उम्र में इस स्कीम से जुड़ते हैं, तो आपको हर महीने ११० रुपये का योगदान करना होगा।

agri news

Leave a Reply