किसानों के लिए पीएम किसान खाद योजना है फायदेमंद।

किसानों के लिए पीएम किसान खाद योजना है फायदेमंद।

114

पीएम किसान खाद योजना किसानों के लिए बेहद लाभदायी साबित हो सकती हैं यदि किसान सही समय पर करवाएं पंजीकरण। सरकार ने किसानों के लिए उर्वरक सब्सिडी के रूप में ५००० रुपये देने की योजना तैयार कर रही हैं। इन योजनाओं में शामिल किसान सम्मान निधि योजना काफी प्रचलित हैं। इस योजना के अंतर्गत सरकार ने ६००० रूपए के आलावा ५००० उर्वरक की सब्सिडी के लिए घोषणा की है। यह सब्सिडी २ किश्तों में वितरत की जाएगी।

भारत सरकार एवं सदानंद गौड़ा रसायन और उर्वरक मंत्री ने मिलकर देश के किसानों के लिए उर्वरक सब्सिडी के रूप में किसानों की मदद करने के लिए घोषणा की हैं। किसान सामान निधि योजना के तहत किसानों को सीधा लाभ देने के लिए खाद और बीज़ योजना शुरू की गई है। सरकार का उद्देश्य हैं की उर्वरक कंपनियों को सीधा सब्सिडी देने की बजाय किसानों को सीधा लाभ पहुंचे।

पीएम किसान खाद योजना के माध्यम से नकद राशि (डीबीटी) के माध्यम से ५००० रूपए किसान के बैंक खाते में आएगी यह राशि २ किश्तों में वितरत की जाएगी। जिसमे २५०० रूपए की पहली राशि खरीफ और दूसरी राशि रबी की शुरुआत से पहले दी जाएगी। .

पीएम किसान खाद योजना का मुख्य उद्देश्य

किसानों को उर्वरक सब्सिडी प्रदान की जाएगी।
उर्वरक सब्सिडी के रूप में रूपए ५००० सालाना राशि वितरत की जाएगी।
डीबीटी के माध्यम से खाते में खाद का पैसा सीधा वितरत किया जाएगा।
उर्वरक कंपनियां सब्सिडी से वांछित रहेगी।
अधिक और उचित मूल्य पर स्टोर में पीएंडके उर्वरक और यूरिया उपलब्ध होंगे।
लाभार्थी के पास ११ हजार रूपए की राशि बैंक खाते में प्रदान की जाएगी।
किसानों को ११,००० रूपए की राशि इस तरह प्रदान की जाएगी: पीएम किसान खाद योजना (५००० रुपये)+पीएम किसान सम्मान निधि योजना (६००० रुपये)

जरुरी दस्तावेज़

  • राशन कार्ड
  • आहार कार्ड
  • किसान कार्ड
  • बैंक खाते से आधार कार्ड को लिंक करें।
  • जमीन की फोटो कॉपी
  • बैंक का विवरण

पीएम किसान खाद योजना को करना होगा ऑनलाइन आवेदन

२०१७ में सरकार ने पीएम किसान खाद योजना का आयोग का गठन किया था इसके बाद सीएसीपी की सिफारिश की जाने के बाद इसे जल्द से जल्द लागू किया गया है।

  • ऑफिशल लिंक पर क्लिक करें।
  • डीबीटी की वेबसाइट खुलेगी उस पर पीएम किसान को सेलेक्ट करना होगा।
    उसके बाद क्लिक हियर के ऑप्शन पर क्लिक करें, पीएम किसान ऑनलाइन फॉर्म का ऑप्शन खुलेगा।
    भाषा का चयन करें और ग्रामीण शहरी किसान सेलेक्ट करें।
    आधार नंबर डालते ही जिला का चयन करें और कैप्चा कोड भरें।
    सर्च बटन पर क्लिक करते ही सबमिट पर जाएं फॉर्म फिल हो जाएगा।
agri news

Leave a Reply