किसानों को मिलेगी कृषि यंत्रों पर ८० प्रतिशत तक अनुदान

किसानों को मिलेगी कृषि यंत्रों पर ८० प्रतिशत तक अनुदान

1674

पटना राज्य के किसानों के लिए सरकार ने १३ जिलों में विशेषकर ३२८ कृषि बैंक बनवाने की योजना निश्चित की है इसके आलावा मगध प्रमंडलों और पटना में २५ स्पेशल कस्टम हायरिंग सेंटर का भी निर्माण किया जाएगा।

KhetiGaadi always provides right tractor information

सरकार ने निश्चित की राशि

सरकार ने इसके तहत यंत्र बैंकों के निर्माण के लिए अधिकतम राशि ८ लाख रूपए एवं विशेष बैंक के लिए १२ लाख रूपए तय की है।

कृषि यंत्रों पर ८० प्रतिशत अनुदान कैसे प्राप्त होगा ?

सूत्रों के मुताबिक, सरकार ने योजनाओं के तहत पराली प्रबंधन के साथ मौसम अनुकूल खेती का समावेश करने का निर्देश पहले ही जारी कर दिया था। किन्तु विभाग ने किसी भी यन्त्र पर ५० प्रतिशत से अधिक अनुदान का फैसला नहीं दिया था किन्तु सचिव के निर्देशानुसार, वे कृषि यन्त्र जो पराली प्रबंधन से जुड़े हुए है उनका अनुदान बढ़ाया जा सकता है।

पर विभाग ने यन्त्र बैंकों के लिए ८० प्रतिशत अनुदान देने की व्यस्था की है। योजनाओं के तहत रबी मौसम के दौरान तकनीकी ट्रेनिंग के लिए ४० हजार किसानों को एक्सपोज़र भी विजिट करवाने की योजना सरकार द्वारा निश्चित की गयी है।

किन समूहों के माध्यम से यन्त्र बैंक की स्थापना की जाएगी


सरकार ने घोषित किया है की किसान समूहों के माध्यम से यन्त्र बैंक की स्थापना की जाएगी। जो समूह भागीदार होगा उसे आसपास के किसानों को कृषि यन्त्र किराये से देना अनिवार्य है। इससे आर्थिक लाभ में समूह को ही फायदा होगा।

यन्त्र बैंकों की स्थापना नयी व्यवस्था के अंतर्गत कुछ जिलों में जैसे बेगूसराय,नवादा, अररिया, पूर्णिया, बांका, जमुई, सीतामढ़ी आदि जैसे जिलों में स्थापित किया जाएगा। हायरिंग केंद्र २५ विशेष मगध प्रमंडल तथा पटना जिलों में ही होंगे।

यदि आप खोज रहे अपने खेत के लिए कृषि उपकरण या पाना चाहते है कृषि से जुडी कोई भी जानकारी, तो न करें देरी और पाएं ट्रैक्टर्स, फार्म मेचानिज़शन से जुड़ी अधिक जानकारी केवल https://khetigaadi.com/पर।

agri news

To know more about tractor price contact to our executive

Leave a Reply