हरियाणा राज्य के किसानों के लिए है ६० लाख रूपए तक के पुरूस्कार पाने का अच्छा मौका

हरियाणा राज्य के किसानों के लिए है ६० लाख रूपए तक के पुरूस्कार पाने का अच्छा मौका

391

मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसान सम्मान योजना के तहत हरियाणा सरकार किसानों के लिए लेकर आयी है पुरुस्कार वितरण का अच्च्छा मौका। योजना की शुरवात हरियाणा सरकार ने शुरू किया। सरकार ने फैसला किया हैं की वे कुल ९६ प्रगतिशील किसानों को ६० लाख रूपए का पुरुस्कार बांटेगी। योजना के अंतर्गत राज्य एवं जिला स्टार के किसानों को सम्मानित किया जाएगा। इसका मकसद यह भी हैं की इससे प्रेरित होकर दुसरे किसान भी खेती-किसानी में नए एवं बेहतर आइडिया के साथ काम कर सकें।

KhetiGaadi always provides right tractor information

सरकार ने किये ऑनलाइन आवदेन आमंत्रित

मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसान सम्मान योजना के लिए हरियाणा सरकार ने किसानों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं। राज्य में लगभग २२ लाख किसान हैं, विशेष बात यह हैं कि किसान अन्य राज्यों के मुकाबले खेती में नए आइडियास के साथ प्रगति कर रहे हैं। देखा जाए तो हरियाणा राज्य आय के मामले में दूसरे नंबर पर हैं । सरकार ने इस बात को देखते हुए प्रगतिशील किसानों को प्रमोट करने के साथ साथ खेती करने काले किसानों को भी प्रोत्साहित करने का फैसला किया हैं।

आवदेन कि अंतिम तिथि /कौन होगा योजना का हकदार

राज्य सरकार के प्रवक्ता ने यह जानकारी दी कि, किसान आवेदन १५ जनवरी तक कर सकते हैं। प्रगतिशील किसान अवार्ड के इच्छुक कृषि विभाग की वेबसाइट (www.agriharyana.gov.in) पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। या अधिक जानकारी के लिए किसान कृषि विभाग में टोल फ्री नंबर (१८०० १८० २११७) पर सुबह ९ से शाम ५ बजे तक संपर्क कर सकते हैं।

जिन किसानों ने नवीनतम तकनीक के साथ खेती में निरंतर प्रयास किया हैं उन्हें योजना के तहत पुरुस्कृत किया जाएगा। इनमें शामिल – एकीकृत कृषि प्रणालियों व टिकाऊ कृषि जिसमें कृषि में नयी तकनीक को शामिल किया हैं, फसलों की उच्च उत्पादकता प्राप्त करने के साथ-साथ पानी की बचत, जैविक खेती को बढ़ावा, फसल अवशेष प्रबंधन, आदि के अद्धर पर पुरुस्कृत किया जाएगा। सरकार का उद्देश्य इस पुरूस्कार के जरिये दूसरे राज्य के किसान खेती में नयी टेक्नोलॉजी के साथ प्रेरित हो।

अवार्ड के लिए कमेटी का गठन

कमेटी का गठन राज्य स्तर पर कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के महानिदेशक तथा जिला स्तर पर उपायुक्त की अध्यक्षता में किया गया है। सरकार प्रगतिशील किसान की पहचान करके उनसे अनुरोध करते है कि वे अपने १० और साथी किसानों को खेती-किसानी में नई तकनीक अपनाने के लिए प्रेरित करें।

पुरुस्कार की राशि का वितरण

प्रगतिशील किसानों के लिए सरकार ने पुरूस्कार की राशि विभाजित की है, जिसमें किसान खेती किसानी से जुड़े अपने कार्यों को दिखाकर पुरुस्कार हासिल कर सकते है।

  • प्रथम पुरुस्कार – ५ लाख रूपए
  • द्वितीय पुरस्कार – ३-३ लाख रूपए
  • तृतीय पुरस्कार – १ -१ लाख रूपए ( ५ किसानों को )
  • जिला स्तरीय श्रेणी में सभी २२ जिलों से सरकार चार किसानों को पुरस्कार देगी। इस प्रकार जिला स्तर पर सांत्वना पुरस्कार के रूप में ८८ किसानों को ५०-५० हजार रुपये की पुरस्कार राशि दी जाएगी। सरकार कुल ९६ किसानों को ६०,००,००० रुपये का पुरस्कार बांटेगी।
agri news

To know more about tractor price contact to our executive

Leave a Reply