जनवरी २०२२ के महीने में ट्रेक्टर बिक्री ३२.६५% से घटी

जनवरी २०२२ के महीने में ट्रेक्टर बिक्री ३२.६५% से घटी

1368

विभिन्न ट्रैक्टर ब्रांडों के लिए ट्रैक्टर थोक विकास के बारे में बात करते हुए, उद्योग ने जनवरी २०२२ के महीने के दौरान उसी महीने के २०२१ के वर्ष की तुलना में फिर से अत्यधिक बिक्री प्रदर्शन दर्ज किया है।

KhetiGaadi always provides right tractor information

ट्रैक्टर ब्रांड यानी महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड के फार्म इक्विपमेंट सेक्टर (FES) ने , जनवरी २०२२ में ट्रैक्टर की २११६२ इकाइयों में ३६ % की गिरावट आई।

अगले ट्रैक्टर ब्रांड उद्योग के साथ आगे बढ़ते हुए टाफे ने जनवरी २०२२ में ९६४७ यूनिट ट्रैक्टरों की बिक्री करके घरेलू ट्रैक्टर विकास बिक्री दर्ज की है, जबकि जनवरी २०२१ में ट्रैक्टरों की १२३३६ इकाइयों की तुलना में। हालांकि कंपनी ने बाजार हिस्सेदारी का १८.२८ % फीसदी दर्ज किया।

Khetigaadi

सबसे तेजी से बढ़ते ट्रैक्टर उद्योगों के साथ, सोनालिका कंपनी ने भी ११.४४% के आंकड़े दर्ज करते हुए बाजार हिस्सेदारी में कमी दर्ज की है। कंपनी ने जनवरी २०२२ में ६०३४ यूनिट्स की घरेलू ट्रैक्टर बिक्री दर्ज की है।

अन्य प्रसिद्ध ट्रैक्टर ब्रांड उद्योग जॉन डियर है जिसने -३४.३०% की वृद्धि में गिरावट दर्ज की है। कंपनी ने जनवरी २०२२ में ५३१५ यूनिट ट्रैक्टर बेचे, जबकि जनवरी २०२१ में ८०९० यूनिट ट्रैक्टर बेचे गए। कंपनी की बाजार हिस्सेदारी भी इसी महीने के पिछले वर्ष की तुलना में -१०.०७%  कम हुई है।

भारत एस्कॉर्ट्स की एक और अग्रणी कंपनी, जिसका मुख्यालय फरीदाबाद, हरियाणा में है। एस्कॉर्ट्स ने -४०.०४% का जबरदस्त नुकसान दर्ज किया है, जिसमें जनवरी २०२२ में ५१०३ यूनिट्स की बिक्री हुई है, जबकि दिसंबर २०२१ में ४०८० यूनिट्स की बिक्री हुई है। दिसंबर २०२१ में बाजार हिस्सेदारी में वृद्धि हुई है। 

अन्य ट्रैक्टर ब्रांड कुबोटा ने भी १२.९९ % की गिरावट पाई है। इसके अलावा, कंपनी ने जनवरी २०२२ में ट्रैक्टरों की ११५४ इकाइयां दर्ज कीं। 

न्यू हॉलैंड ट्रैक्टर कंपनी ने जनवरी २०२२ में २१३६ ट्रैक्टर बेचकर थोक विकास रिकॉर्ड -३४.२६% तोड़ दिया। जबकि पिछले महीने में बाजार हिस्सेदारी में भी इसी महीने के पिछले वर्ष की तुलना में बाजार हिस्सेदारी में -०.१०% की गिरावट हुई है।

इंडो फार्म ट्रैक्टर उद्योग ने बिक्री रिकॉर्ड के २०.६९% की उच्चतम वृद्धि दर्ज की है। इसके अलावा, कंपनी १.०६% की बाजार हिस्सेदारी का आग्रह करती है। कंपनी ने जनवरी २०२२ में ट्रैक्टरों की ५६० इकाइयों की बिक्री के आंकड़े हासिल किए, जबकि जनवरी २०२१ महीने के दौरान ट्रैक्टरों की ४६४ इकाइयों की बिक्री की गई।

सबसे कुशल ट्रैक्टर कंपनी की बात करें तो प्रीत ने भी घरेलू ट्रैक्टर बिक्री में -४४.९६% का जबरदस्त नुकसान दर्ज किया है। जबकि पिछले साल जनवरी में कंपनी की बाजार हिस्सेदारी १.१०% से घटकर ०.९०% हो गई है।

वीएसटी ट्रैक्टर ब्रांड उद्योग में बिक्री में -३५.१०% की गिरावट दर्ज की गई है। जबकि कंपनी ने जनवरी में ट्रैक्टरों की ३६८ इकाइयों की बिक्री की, जबकि जनवरी २०२१ में ५६७ ट्रैक्टरों की बिक्री की। 

फोर्स मोटर्स कंपनी ने भी बिक्री में -२६.४१% की गिरावट दर्ज की है। जनवरी २०२२ में ट्रैक्टरों की २८७ यूनिट की बिक्री की है। वहीं दूसरी ओर कंपनी की बाजार हिस्सेदारी ०.५४% दर्ज की गई, जो पिछले वर्ष की तुलना में अधिक है।

ACE ट्रैक्टर उद्योग ने भी घरेलू ट्रैक्टरों की बिक्री में ६.९७% की वृद्धि दर्ज की है। और बाजार हिस्सेदारी ०.४१% उछल गई।

कैप्टन ट्रैक्टर उद्योग ने भी जनवरी २०२२ में ट्रैक्टरों की २२५ इकाइयों की बिक्री करते हुए -४४.१७% की बिक्री हानि दर्ज की। साथ ही, कंपनी की बाजार हिस्सेदारी -०.४३% है।

वही सेम डिउटज फहर उद्योग ने -५७.००% की नकारात्मक वृद्धि दर दर्ज की है।

इस प्रकार, हम कह सकते हैं कि वर्ष २०२१ जनवरी महीने की तुलना में ट्रैक्टर ब्रांडों की कुल बिक्री इकाइयाँ ब्रांडों के लिए थोड़ी हानिकारक थीं।

agri news

To know more about tractor price contact to our executive

Leave a Reply