किसानों को १०वीं किश्त के साथ तीन और योजनाओं का लाभ मिलेगा, पढ़े क्या हैं प्रक्रिया

किसानों को १०वीं किश्त के साथ तीन और योजनाओं का लाभ मिलेगा, पढ़े क्या हैं प्रक्रिया

1736

केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएं चलायी जा रही है जिसके तहत पीएम किसान सम्मान निधि योजना से किसानों को आर्थिक लाभ में सहायता मिल रही है। देश के करोड़ों किसानों ने इस योजना के तहत १०वीं किश्त की राशि प्राप्त करने हेतु पंजीकरण कराया है और योजना का लाभ उठाने के लिए पूरी तरह तैयार है।

KhetiGaadi always provides right tractor information

सूत्रों से जानकारी अनुसार, योजना की १०वीं किश्त की राशि १ जनवरी, २०२२ से पहले किसानों के खातों में वितरित की जाएगी। किसानों को जानकारी मिलते ही उन्हें काफी ख़ुशी है।

केंद्र सरकार किसानों की राशि को दोगुना करने का सोच रही है जिसमें लाभार्थियों को २००० रूपए की राशि के बजाय ४००० रूपए की राशि प्रदान की जाएगी।

Khetigaadi

देश के किसानों को इस बार १०वीं किश्त के साथ तीन और अतिरिक्त लाभ प्रदान किये जाएंगे। इसके तहत किसान अब मानधन योजना का भी लाभ उठा सकते हैं। इसके आलावा आर्थिक मदद देने के लिए पेंशन योजना की भी शुरुवात की है और किसान क्रेडिट कार्ड से ऋण का लाभ उठा सकते हैं।

१० वीं किश्त की राशि के साथ किसान तीन अतिरिक्त योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं इनमें से निम्न :

पीएम किसान क्रेडिट कार्ड

अब पीएम किसान क्रेडिट कार्ड को किसानों की पीएम योजना से जोड़कर किसानों को आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी और किसानों को किफायती दरों पर कर्ज भी मुहैया करेगी। किसान क्रेडिट कार्ड योजना और पीएम किसान सम्मान निधि योजना को आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत जोड़ा हैं। वर्तमान स्थिति में ७ करोड़ किसान केसीसी के माध्यम से पंजकृत हैं और सरकार की तरफ से और एक करोड़ लोगों को योजना में शामिल करना चाहती हैं।

पीएम किसान मानधन योजना

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसान पेंशन स्कीम का फायदा ले सकते हैं। वे किसान जो पहले से ही योजना में पंजकृत करवा सकते हैं। इस योजना में निवेश १८ से ४० वर्ष का कोई भी किसान लाभ अर्जित कर सकता हैं। इस योजना के तहत न्यूनतम ३००० रुपये मासिक पेंशन मिलेगी।

पीएम किसान आईडी कार्ड

पीएम द्वारा चालू की गयी पीएम किसान योजना से प्राप्त आकड़ें अनुसार आईडी कार्ड योजना के तहत किसानों के लाभ के लिए आईडी कार्ड बनाने की योजना तैयार कर रही हैं। सरकार इसे भूमि अभिलेख से जोड़कर पहचान पत्र बनाएगी जिससे किसानों तक खेती से जुड़ी योजनाओं की जानकारी आसानी से पहुंच जाएगी ।

agri news

To know more about tractor price contact to our executive

Leave a Reply