पशु किसान क्रेडिट कार्ड स्कीम से किसानों को लोन लेना हुआ आसान

पशु किसान क्रेडिट कार्ड स्कीम से किसानों को लोन लेना हुआ आसान

1202

किसानों को पशुपालन की सुविधा का ख़ास ध्यान रखना होता है परन्तु मध्यम और निम्न स्तरीय किसान को आर्थिक व्यवस्था के कारण काफी दिक्कत होती है। इसके लिए सरकार ने पशु पालन के लिए पशु किसान क्रेडिट कार्ड स्कीम के तहत ३ लाख रूपए लोन की सुविधा प्रदान की है।

KhetiGaadi always provides right tractor information

यह रकम गाय, भैंस, भेड़, बकरी और मुर्गी के पालन के लिए मिलती है। इस स्कीम के तहत किसानों को रूपए १.६० लाख तक की रकम लेने के लिए कोई गारंटी नहीं देनी होगी। मोदी सरकार द्वारा चालू की गयी किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) स्कीम की तरह शर्तें पशु किसान क्रेडिट कार्ड में लागू की गयी है।

हरियाणा में अब तक बिना जोत वाले ५६,००० पशुपालकों को पशु किसान क्रेडिट कार्ड स्कीम के तहत लाभ प्रदान किया गया है। इस कार्ड से लिए गए लोन पर सिर्फ ४ प्रतिशत ब्याज लगता है।

किन पशुपालनों पर मिलेगा कितना पैसा? जानें प्रावधान।

  • प्रति भैंस के लिए ६०,२४९ रुपए का प्रावधान है।
  • गाय के लिए ४०,७८३ रुपए मिलेंगे।
  • मुर्गी (अंडा देने वाली के लिए) ७२० रुपए दिए जायेंगे ।
  • भेड़ बकरी के लिए ४०६३ रुपये दिए जाएंगे।

हरयाणा राज्य के लिए कार्ड की कैसी होगी पात्रता

  • हरयाणा राज्य का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवदेक के पास वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड,आधार कार्ड जैसे डाक्यूमेंट्स होने चाहिए।
  • आवेदक का रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर।
  • फोटो का पासपोर्ट साइज अनिवार्य है।

जानें ब्याज दर की सीमा

  • बैंक्स द्वारा लगभग ७ प्रतिशत की ब्याज दर तय की जाती है।
  • ४ प्रतिशत ब्याज पशु किसान क्रेडिट कार्ड पर तय किया गया है।
  • केंद्र सरकार ने ३ प्रतिशत की छूट का प्रावधान रखा है।
  • किसान लोन रूपए ३ लाख तक ले सकते है।

आवदेन करने की प्रक्रिया

  • हरयाणा राज्य के लाभार्थियों को नज़दीकी बैंक में जाकर पशु क्रेडिट कार्ड के लिए आवदेन करना होगा।
  • वहाँ पर एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा एवं साथ में जरुरी दस्तावेज लेकर जाना होगा।
  • इसके बाद केवीसी करवाना होगा।
  • बैंक की तरफ से सभी प्रक्रिया पूर्ण हो जाने के बाद किसानों को एक महीने के अंतर्गत किसानों को पशु केडिट कार्ड मिल जाएगा।
agri news

To know more about tractor price contact to our executive

Leave a Reply