बिहार समेत अन्य राज्यों में सरकार द्वारा निःशुल्क में करवाया जा रहा पशुओं का टीकाकरण

बिहार समेत अन्य राज्यों में सरकार द्वारा निःशुल्क में करवाया जा रहा पशुओं का टीकाकरण

112

उत्तर भारत समेत देश के कई राज्यों में किसान पशुपालन को अधिक प्राथमिकता सरकार द्वारा दी जा रही है। देश में ऐसे बहुत किसान हैं जिनकी खेती अथवा पशुपालन पर आय का साधन निर्भर करता है। किसानों के लिए इसी वजह से पशुपालन एक प्रमुख व्यवसाय बनकर उभरा है। पशु में भी अनेकों बीमारियाँ सामने आती है जिनकी वजह से पशुओं की असमय मौत हो जाती है। इसका मुख्य कारण है सही दवा या सही टीकाकरण न मिल पाना।

देश की राज्य सरकार किसानों के लिए इस समस्या का साधन पशुपालन टीकाकरण के रूप में चला रही हैं जिसको ‘वक्सीनशन फॉर बफैलो एंड कैटल’ के नाम से भी जाना जाता है।

सरकार हर साल किसान पशुपालन को प्राथमिकता देते आयी है, किन्तु पशुओं में बीमारियां फैलने के कारण उनको काफी नुक्सान होता है जिसकी वजह से किसानों को आर्थिक स्तिथि में नुक्सान होता है। इस साल बिहार सरकार ने पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग ने पशु में रोग में नियंत्रण लाने के लिए निःशुल्क टीकाकरण का कार्यक्रम आयोजित किया है।

इस कार्यक्रम का आयोजन समबन्धित अधिकारी घर घर जाकर दुधारू गायों और पशुओं को टीका लगाने का काम करेंगे। किसान पशुपालक या अन्य पशुपालक को सही समय पर टीकाकरण करवा लेना चाहिए।

जिला पंचायत सदस्य, मुख्य पंचायत समिति वार्ड समिति के नेतृत्व में कार्यक्रम को पूरा करवाया जा रहा है।

इसके आलावा सरकार ने नोटिस भी जारी किया है, यदि पशु का टीकाकरण या पशुपालकों से किसी भी प्रकार की राशि मांगी गई तो इसकी शिकायत पशुपालन से किसी भी प्रकार की राशि मांगी गई तो इसकी शिकायत पशुपालन निदेशालय के नंबर ०६१२-२२३०९४२ पर की जा सकती है।

agri news

Leave a Reply