मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना से किसानों को होगा लाभ

मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना से किसानों को होगा लाभ

136

हाल ही में हरयाणा सरकार ने उन किसानों के लिए जो बागवानी क्षेत्र में कृषि करते हैं उनके लिए ‘मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना’ के तहत फसलों पर सुरक्षा देने का फैसला किया हैं। किसान को फल की फसल के लिये १,००० रुपये, सब्जियों और मसालों की फसल के लिये ७५० रुपये का मामूली भुगतान करना होगा। इसके साथ ही क्रमश: ३०,००० रुपये और ४०,००० रुपये का बीमा आश्वासन दिया जा रहा है।

हरयाणा के मुख्यमंत्री एम एल खट्टर और मंत्रिमंडल ने मिलकर यह फैसला किया है की जिन किसानों को बागवानी फसल में नुक्सान उठाना पड़ा है उन्हें सरकार फसलों पर सुरक्षा प्रदान करेगी।

बागवानी में नुकसान होने के कई कारण है: असमय वर्षा, तूफान, तापमान बढ़ना और सूखा जैसे परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

आधिकारिक बयान में बताया गया है कि, सब मिलकर २१ फल, सब्जियों और मसाले की फसलों पर इस योजना का सुरक्षा कवर दिया जाएगा।

सरकार, बीमा दावे का निपटारा करने के लिए सर्वे करेगी जिसमें फसल नुक्सान को चार श्रेणियों में रखा गया है : २५ प्रतिशत, ५० प्रतिशत, ७५ और १०० प्रतिशत के निम्नानुसार आंका जाएगा। यह योजना वैकल्पिक है और पूरे राज्य में लागू की जाएगी।

योजना को अपनाने के लिए किसानों को मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल में अपनी फसल और क्षेत्र का ब्यौरा देना होगा और उसके बाद पंजीकरण कराना होगा। योजना के तहत राज्य सरकार, जिला और राज्य स्तरीय समितियों द्वारा १० करोड़ रुपये की बीज पूंजी रखी जायेगी.

मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के तहत विभिन्न प्रकार की फसल जैसे – भिंडी,करेला,टमाटर,आलू, प्याज, गाजर, पत्ता गोभी, मूली, बेर,अमरूद आदि फसलों को कवर किया जा रहा हैं।

agri news

Leave a Reply