उत्तर प्रदेश के कृषि क्षेत्र में महिला किसानों ने दिखाई रूचि

उत्तर प्रदेश के कृषि क्षेत्र में महिला किसानों ने दिखाई रूचि

425

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार,किसानों के लिए शुरू की गयी पीएम किसान सम्मान निधि योजना से उत्तर प्रदेश राज्य में महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़ रही है। उन्हें इस योजना से काफी लाभ हुआ है।

पिछले कुछ वर्षों पहले जहाँ जिले के कुछ १५ हज़ार किसान महिलाओं को लाभ मिल रहा था वहां अब इस योजना का लाभ ८५ हज़ार से अधिक महिलाओं को लाभान्वित किया जा रहा है।

सरकारी आकड़ों से मिली जानकारी अनुसार जिले में ६.३६ लाख किसानों को इस योजना के तहत राशि प्राप्त हुई है और लाभ पहुँच रहा है। जिले के कृषि निदेशक वीके शर्मा ने जानकारी दी है की, सन्न २०१९ में महिला किसानों की संख्या तीन गुना बढ़ कर ४५ हज़ार हो गयी है। वही सन्न २०२० में ६५ हज़ार संख्या हुई और २०२१ में ८५ हज़ार के पास संख्या हो चुकी है।

JK Tyre AD

महिला किसानों की भागीदारी कृषि क्षेत्र में नयी उन्नति और रूचि की ओर बढ़ते दिख रही है।

पीएम किसान सम्मान निधि योजना से किसानों के खातों में कितनी राशि प्राप्त होती है ?

सरकार द्वारा शुरू की गयी पीएम किसान सम्मान निधि योजना से किसानों के खातों में साल में एक बार छह हजार रुपए राशि प्रदान की जाती है। यह राशि तीन किश्त में, दो-दो हजार रुपए की राशि किसानों के डायरेक्ट खातों में ट्रांसफर की जाती है।

डिजिटल सिग्नेचर के काम में प्रगति दिखाई दे रही है:

राज्य के बागपत जनपद में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से लाभार्थियों के खातों में ९वीं किश्त भी भेज दी गई है। जिससे किसान बहुत खुश है। जिले में किसान सम्मान निधि के पोर्टल पर अब तक एक लाख २४ हजार किसान पंजीयन करा चुके है।

जहाँ केंद्र सरकार किसानों के खातों में किश्त को ट्रांसफर कर रही है वही जिले द्वारा लाभान्वित किसानों के डिजिटल सिग्नेचर का कार्य तेज़ी से चल रहा है। केंद्र सरकार हर तीन माह में दो हजार रूपए का लाभ किसानों को प्रदान करती है ओर जिसमें बागपत जनपद में अब तक ९वीं किश्त का लाभ दिया जा चुका है। लाभान्वित “किसानों की सूचि केंद्र सरकार को भेजी जा चुकी है।”

उपनिदेशक प्रशांत कुमार का कहना है कि कितने किसानों को ९वी किश्त का लाभ पहुंचा है इसकी जानकारी पोर्टल अपडेट होने के बाद ही चलेगा।

agri news

Leave a Reply