गैर-बासमती चावल पर निर्यात में वृद्धि

गैर-बासमती चावल पर निर्यात में वृद्धि

328

बासमती चावल का निर्यात कई अन्य देशों जैसे नेपाल, अमीरात, गिनी, संयुक्त अरब, सोमालिया, अमेरिका और एशिया और यूरोप के कई अन्य देशों में किया जाता है।

वाणिज्य मंत्रालय के रिपोर्ट के अनुसार अप्रैल-दिसंबर 2020-21 के दौरान गैर-बासमती चावल का निर्यात बढ़कर 22,856 करोड़ रुपये हो गया,जो पिछले वर्ष के मुताबिक दोगुना हो गया ।

गैर-बासमती चावल में 122.61 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई जबकि डॉलर की अवधि में यह राशि 111.31 प्रतिशत दर्ज की गई है।

बासमती चावल का निर्यात बढ़कर 2.947 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया है। जबकि पिछले वर्ष की समान अवधि के दौरान 2.936 बिलियन अमरीकी डॉलर था।

ईरान, सऊदी अरब, इराक, संयुक्त अरब अमीरात, कुवैत और यूरोपीय देश भारतीय बासमती चावल के निर्यात के लिए प्रमुख स्थलों में सबसे लोकप्रिय देश हैं।

अप्रैल-दिसंबर 2019 के दौरान 336 करोड़ रुपये की तुलना में गेहूं के निर्यात में 1,870 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई है।नेपाल, बांग्लादेश और संयुक्त अरब अमीरात गेहूं के प्रमुख निर्यात हैं ।

सूत्रों के मुताबिक भारतीय इंजीनियरिंग निर्यात जनवरी में 18.69 प्रतिशत बढ़ा है।

agri news

Leave a Reply