टैफे की मुफ़्त ट्रैक्टर रेंटल योजना ने राजस्थान के छोटे किसानों को ५५,००० एकड़ से अधिक की खेती करने में मदद की

टैफे की मुफ़्त ट्रैक्टर रेंटल योजना ने राजस्थान के छोटे किसानों को ५५,००० एकड़ से अधिक की खेती करने में मदद की

1128

९०,००० घंटों से अधिक की निःशुल्क ट्रैक्टर और कृषि उपकरण रेन्टल सेवा उपलब्ध कराई गई ।

सितम्बर २०२१, राजस्थान: अपने लोकप्रिय जेफार्म सर्विसेज़ प्लेटफॉर्म के अंतर्गत, टैफे की मुफ़्त ट्रैक्टर रेंटल योजना में पूरे राजस्थान के हजारों छोटे और सीमांत किसानों को लाभान्वित किया।

कोविड-१९ महामारी की दूसरी लहर और लॉकडाउन के कारण गंभीर समस्याओं के बावजूद, इस स्कीम ने किसानों को अपनी फसलों को बचाने और अपने कृषि कार्यों को निरंतर रूप से जारी रखने में मदद की है।

जेफार्म सर्विसेज़ की मुफ़्त ट्रैक्टर रेंटल योजना को कृषक समुदाय से व्यापक लोकप्रियता और जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है। पूरे राजस्थान में ६० दिनों के भीतर ९०,००० घंटों के लिए मुफ़्त ट्रैक्टर और कृषि उपकरण रेन्टल सेवा उपलब्ध कराई गई।

१ हेक्टेयर या २.५ एकड़ से कम भूमि वाले सीमांत किसानों के लिए टैफे ने अपने ४७,००० मैसी फ़र्ग्यूसन और आयशर ट्रैक्टर, तथा १,३७,००० उपकरणों को एकदम निःशुल्क किराए के आधार पर मुहैय्या कराया।

जून से जुलाई २०२१ तक, ६० दिनों के लिए लागू इस योजना के दौरान, ५५,००० एकड़ पर मुफ़्त में कृषि कार्य कराया गया। इस स्कीम के तहत किसानों द्वारा अत्यधिक मांग वाले उपकरण जैसे कल्टीवेटर, डिस्क हैरो, सीड ड्रिल (बीज बुवाई की मशीन), डिस्क प्लाऊ (हल) और मोल्डबोर्ड प्लाऊ का व्यापक रूप से उपयोग किया गया।

टैफे द्वारा इस सामाजिक (CSR) पहल का मुख्य उद्देश्य कृषक समुदाय को कोविड-१९ महामारी के दौरान हो रही आर्थिक हानि में समर्थन तथा सहयोग देना, और रबी की कटाई और खरीफ की तैयारी के मौसम के नाजुक दौर में छोटे और सीमांत किसानों की मदद करना है।

राजस्थान सरकार के कृषि मंत्री माननीय श्री. लालचंद कटारिया जी ने कहा, “टैफे की मुफ़्त ट्रैक्टर रेंटल योजना के प्रति किसान समुदाय से काफी उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली है, उन्हें खरीफ की फसलों हेतु खेत तैयार करने तथा बुवाई में काफी मदद मिली है।

ट्रैक्टर रेंटल योजना के माध्यम से किसानों को खेती करने और अतिरिक्त आमदनी प्राप्त करने में सहायता प्राप्त हुई। मैं कोरोना संकट में किसानों को सेवा मुहैया कराने वाली टैफे कम्पनी की पूरी टीम को धन्यवाद देता हूं।

उनकी मेहनत और सहयोग से ही ऐसे विकट समय में काश्तकारों तक मदद पहुंचाना सम्भव हो सका है। मुझे पूरी उम्मीद है कि टैफे कम्पनी भविष्य में भी किसानों को जरूरत के समय इसी तत्परता से सहयोग करती रहेगी।”

डॉ. ओम प्रकाश (आई.ए.एस.) कृषि आयुक्त, राजस्थान सरकार, ने कहा, “टैफे कंपनी ने कोविड-१९ महामारी की दूसरी लहर की चुनौतियों का सामना करने के अपने प्रयासों में किसानों की रुचि को ध्यान में रखते हुए ठोस कदम उठाए हैं।

टैफे द्वारा अपने जेफार्म सर्विसेज़ ऐप और प्लैटफॉर्म के माध्यम से कोरोना महामारी के बीच राज्य के छोटे किसानों को राहत प्रदान करने के लिए निःशुल्क ट्रैक्टर रेंटल योजना जून १ से जुलाई ३१, २०२१, तक प्रदान की गई।

इस योजना के तहत राज्य में ९०,००० घंटों से अधिक की मुफ्त ट्रैक्टर और कृषि उपकरण रेंटल सेवा प्रदान की गई है, जो बहुत सफल रही। टैफे – जेफार्म सर्विसेज़ का प्रयास काफी सराहनीय हैं। फ्री ट्रैक्टर रेंटल योजना से किसान समुदाय काफी खुश है।”

टैफे की चेयरमैन और प्रबंध निदेशक, मल्लिका श्रीनिवासन ने कहा, “टैफे के जेफार्म सर्विसेज़ के अंतर्गत छोटे किसानों के लिए प्रदान की गई मुफ़्त ट्रैक्टर रेंटल योजना के प्रति राजस्थान सरकार द्वारा दिए गए उत्कृष्ट सहयोग के लिए हम अपना आभार व्यक्त करते हैं।

हमें इस नाजुक दौर में छोटे और सीमांत किसानों की सेवा करने, और साथ ही डायरेक्ट बेनिफिट प्रणाली के तहत किसानों के राजस्व को बढ़ाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाने का अवसर दिया गया, जिसका, ट्रैक्टर और उपकरण किराए पर देने वाले किसान और सेवा प्राप्त करने वाले छोटे किसान, दोनों ने स्वागत किया है।”

टैफे ने, राजस्थान सरकार के कृषि विभाग के प्रशासनिक सहयोग से, छोटे और सीमांत किसानों के लिए इस योजना को सफलतापूर्वक लागू किया।

इस अनूठी और बेहतरीन पहल के साथ, टैफे भारतीय कृषक समुदाय को उनकी आजीविका में मदद करके उनकी उन्नति की कामना करता है और राजस्थान के किसानों के प्रति अपने समर्थन और प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है।

agri news

Leave a Reply