खरीफ २०२१ में केंद्र सरकार ने बीज पर मिनी किट वितरण करने का किया फैसला

खरीफ २०२१ में केंद्र सरकार ने बीज पर मिनी किट वितरण करने का किया फैसला

531

खरीफ २०२१ के लिए केंद्र सरकार ने दालों के उत्पादन में आत्मनिर्भरता प्राप्त करने के लिए, एक विशेष खरीफ-२०२१ रणनीति तैयार की है। यह योजना केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों के साथ परामर्श के बाद दालों में जैसे तूर, मूंग, और उड़द की उत्पादकता बढ़ाने के लिए विस्तृत योजना बनाई है।

इस योजना से, सभी केंद्रीय बीज एजेंसियों या राज्यों से प्राप्त की जाने वाली उच्च उपज वाली किस्मों (हाई ईएलडी एङ्ग वेरायटीज) का उपयोग करते हुए, इंटरकैपिंग और एकमात्र फसल के माध्यम से क्षेत्र का विस्तार करने के लिए निशुल्क दिया जाएगा।

सरकार २०२०-२१ की तुलना में दस गुना बीज मिनी किट केंद्रीय बीज एजेंसियों या राज्यों में उपलब्ध बीजों की सभी आगामी खरीफ २०२१ के लिए, २०,२७,३१८ के रूप में वितरण करेगी जिसकी मूल्य राशि ८२.०१ करोड़ तय की गयी है।

“तुअर, उड़द और मूंग, का उत्पादन बढ़ाने के लिए इन मिनी किट्स की कुल लागत केंद्र द्वारा वहन की जाएगी।”

किसानों को निम्नलिखित मिनी-किट वितरित किए जाएंगे;

अरहर के १३,५१,७१० मिनी किट जिनमें पिछले १० वर्षों के दौरान जारी किए गए अरहर के प्रमाणित बीज और इंटरकोपिंग के लिए १५ क्विंटल / हेक्टेयर से कम उत्पादकता नहीं है।

उड़द के प्रमाणित बीजों वाले उड़द के १,०८,५०८ मिनी किट पिछले १५ वर्षों के दौरान जारी किए गए हैं और उत्पादन १० क्विंटल / हेक्टेयर से कम नहीं है।

मूंग के ४,७३,२९५ मिनी किट जिनमें मूंग के प्रमाणित बीजों की मात्रा है, जो पिछले १० वर्षों के दौरान जारी किए गए थे, लेकिन उत्पादकता इंटरकैपिंग के लिए १० क्विंटल/ हेक्टेयर से कम नहीं थी।

agri news

Leave a Reply